किडनी की समस्याएं शरीर के महत्वपूर्ण उपकरण होती हैं जो हिमांशु निकालने, विषैले तत्वों को निकालने, रक्त को साफ़ करने और शरीर के पानी का संतुलन बनाए रखने के लिए मदद करती हैं। निम्नलिखित हैं 8 प्रमुख किडनी समस्याएं:

गुर्दे की पथरी (किडनी स्टोन):

गुर्दे की पथरी (किडनी स्टोन): यह एक आम समस्या है जिसमें गुर्दे में पथरी बनती है और मूत्रमार्ग से निकालने में कठिनाई होती है।

गुर्दे की संक्रमण:

गुर्दे में इन्फेक्शन होने से होने वाली समस्या होती है जो पेशाब करने में दर्द, जलन और सामान्य स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकती है।

गुर्दे की पुरानी बीमारियाँ:

चर्बीदार निश्चय ग्रंथि (पोलिस्टर्स) या गुर्दे के अन्य रोग जैसे कि किसी रूप में रक्त की बहुलता (वासक्ता) या ब्लैडर में तनाव की स्थिति (नियंत्रक) इत्यादि हो सकते हैं।

किडनी संक्रमण (अपशिस्ट नेफ्राइटिस):

इसमें किडनी में संक्रमण होता है जो गुर्दे की कार्यक्षमता को प्रभावित कर सकता है।

नेफ्रोटिक सिंड्रोम:

यह एक गंभीर किडनी समस्या है जिसमें पेशाब में प्रोटीन की बहुलता होती है, जो शरीर के पानी के स्तर पर असर डाल सकती है।

किडनी की यांत्रिकी समस्या:

गुर्दे की यांत्रिकी समस्याएं जैसे कि किडनी की पतन, किडनी का विस्तार, या किडनी के किसी अंग का टूटना इत्यादि हो सकती हैं।

अवरुद्ध मूत्रमार्ग:

किडनी के मूत्रमार्ग में ब्लॉकेज के कारण पेशाब की प्रवाह में कठिनाई हो सकती है।

किडनी कैंसर:

यह गंभीर रोग है जिसमें किडनी में अनियंत्रित रूप से बढ़ती हुई एक गांठ या ट्यूमर होता है।

यदि आपको लगता है कि आपकी किडनी समस्या है, तो आपको चिकित्सक की सलाह लेना चाहिए और उचित उपचार कराना चाहिए।