विश्व के अद्भुत स्थानों की यात्रा: सप्त विश्वास्मारक

यदि आप अपने जीवन को रंगीन और यादगार बनाना चाहते हैं, तो आपको विश्व के अद्भुत स्थानों की यात्रा करनी चाहिए। इन स्थानों में प्राकृतिक सौंदर्य, ऐतिहासिक महत्व और आध्यात्मिकता का मिश्रण होता है जो आपके मन को भर देगा। यहां हम आपको सप्त विश्वास्मारकों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें देखकर आपकी यात्रा का आनंद और भी बढ़ेगा।

  • ताज महल, भारत: ताज महल भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के आगरा शहर में स्थित है। यह एक भव्य मकबरा है जिसे मुग़़ल सम्राट शाहजहाँ ने अपनी पत्नी मुमताज़ महल की याद में बनवाया था। इसकी सफेद मार्बल संरचना, चार मीनारों का नक्शा और उसकी भव्यता इसे एक अद्वितीय विश्वास्मारक बनाती है।

  • चिचेन इत्ज़ा, मेक्सिको: चिचेन इत्ज़ा मेक्सिको के पश्चिमी युकातान प्रान्त में स्थित है। यह माया सभ्यता का ऐतिहासिक स्थल है जिसे 7वीं सदी से 10वीं सदी ईसा पूर्व तक विकसित किया गया था। इसमें पाये जाने वाले पिरामिड्स, मंदिर और मौसोलियम इसे एक मनोहारी और आकर्षक स्थान बनाते हैं।

  • पेत्रा, जॉर्डन: पेत्रा जॉर्डन में स्थित एक पुरानी नगरी है जिसे ‘रोज़ेरा स्टोन सिटी’ भी कहा जाता है। यह नगरी चट्टानों के बीच में स्थित है और विश्व धरोहर स्थल के रूप में मान्यता प्राप्त है। पेत्रा के मुख्य आकर्षण में से एक ‘अल-खजने’ है, जो बत्तीस वर्षीय यात्रीयों की जबान खोल देने वाली यात्री है।

  • ग्रेट वॉल ऑफ़ चीन, चीन: ग्रेट वॉल ऑफ़ चीन चीन के उत्तरी हिमालय पर्वतमाला में स्थित है। यह दुनिया का सबसे लंबा सुरंग है और चीनी सांस्कृतिक और ऐतिहासिक महत्व का प्रतीक है। इस दीवार को मुग़़ल सम्राटों ने अपनी राजनीतिक और सुरक्षा की आवश्यकताओं के लिए बनवाया था।

  • माचू पिचू, पेरू: माचू पिचू पेरू के आंडीज़ पर्वत प्रान्त में स्थित है। यह इंक सभ्यता का महत्वपूर्ण स्थान है और विश्व धरोहर स्थल के रूप में यूनेस्को द्वारा मान्यता प्राप्त है। माचू पिचू की वास्तुकला, रहस्यमय इतिहास और प्राकृतिक वातावरण इसे विश्वास्मारकों की सूची में सबसे ऊँचा स्थान देते हैं।

  • पुएब्लो, मेक्सिको: पुएब्लो मेक्सिको का एक प्रमुख शहर है जिसे विश्व धरोहर स्थल के रूप में मान्यता प्राप्त है। यह शहर अपने आदिवासी मेक्सिकन संस्कृति, कॉलोनियल वास्तुकला और धार्मिकता के लिए प्रसिद्ध है। पुएब्लो के बाजार, गिरजाघर, और नारियल से बनी छतों वाले घर इसे अलग बनाते हैं।

  • कोलोसियम, इटली: कोलोसियम रोम, इटली में स्थित है और यह एक बड़ा एंफीथियेटर है जिसे विश्व धरोहर स्थल के रूप में मान्यता प्राप्त है। यह शहरी अंतराल में स्थित है और अपने विख्यात ऐतिहासिक महत्व के लिए जाना जाता है। कोलोसियम की स्थापना 70 ईसवी में हुई थी और यह रोमी सांस्कृतिक और खुदरा गतिविधियों का महत्वपूर्ण केंद्र था।

युनेस्को विश्व विरासत स्थल ऐसे विशेष स्थानों (जैसे वन क्षेत्र, पर्वत, झील, मरुस्थल, स्मारक, भवन, या शहर इत्यादि) को कहा जाता है, जो विश्व विरासत स्थल समिति द्वारा चयनित होते हैं; और यही समिति इन स्थलों की देखरेख युनेस्को के तत्वाधान में करती है। अजंता की गुफाएं 29 चट्टानों को काट कर बनाई गई है।

इस कार्यक्रम का उद्देश्य विश्व के ऐसे स्थलों को चयनित एवं संरक्षित करना होता है जो विश्व संस्कृति की दृष्टि से मानवता के लिए महत्वपूर्ण हैं। कुछ खास परिस्थितियों में ऐसे स्थलों को इस समिति द्वारा आर्थिक सहायता भी दी जाती है। अब तक ( जनवरी 2023 तक) पूरी दुनिया में लगभग 1157 स्थलों को विश्व विरासत स्थल घोषित किया जा चुका है जिसमें 900 सांस्कृतिक, 218 प्राकृतिक, 39 मिले-जुले स्थल हैं।

प्रत्येक विरासत स्थल उस देश विशेष की संपत्ति होती है, जिस देश में वह स्थल स्थित हो; परंतु अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का हित भी इसी में होता है कि वे आनेवाली पीढियों के लिए और मानवता के हित के लिए इनका संरक्षण करें। बल्कि पूरे विश्व समुदाय को इसके संरक्षण की जिम्मेदारी होती है।

इन सात विश्वास्मारकों की यात्रा आपको विश्व के विविधताओं, संस्कृतियों, और अद्भुतताओं का एक आदर्श अनुभव प्रदान करेगी। यहां आप प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद ले सकते हैं, ऐतिहासिक घटनाओं के बारे में सीख सकते हैं और आध्यात्मिकता के मंदिरों की महिमा का आभास कर सकते हैं। तो आइए, विश्व की यात्रा करें और ये अद्भुत स्थानों का आनंद उठाएं!

और पढ़ें 

रौंगटे खड़े कर देने वाली कोलकाता की 12 सबसे हॉन्टेड जगहें….

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *